पीपल के पत्ते से वशीकरण के 05 सरल तरीके

पीपल के पत्ते से वशीकरण के 05 सरल तरीके


आप में से शायद कुछ लोग जानते होंगे और शायद कुछ लोग इस बात को सुनकर हैरान हो जाएंगे कि pipal ke patte se vashikaran किया जा सकता है, अगर आपको विश्वास ना हो तो इस पोस्ट को पढ़ने के बाद एक बार जरूर इसे आजमा कर देखिएगा।

इस संसार में हर इंसान की कोई ना कोई चाहत होती है, लेकिन या तो उसकी बुरी किस्मत की वजह से या किसी अन्य कारणवश उस इंसान की यह चाहत पूरी नहीं हो पाती और वह बहुत दुखी इंसान अपनी चाहत को पूरी करने के लिए ना जाने क्या-क्या उपाय करता है, लेकिन कई उपायों को करने के बाद भी उसे सिर्फ निराशा ही हाथ लगती है। अगर आप भी ऐसी स्थिति में है जहां पर आपको आपका कोई अपना छोड़कर चला गया हो या कोई आपसे आपका अपना रूठ गया हो तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़िएगा, क्योंकि हम इसमें कुछ ऐसे सरल उपाय बताने जा रहे हैं जिनका उपयोग करके आप आसानी से अपने प्यार का वशीकरण कर सकते है।

क्यों सफल नहीं होते कई वशीकरण मंत्र।

आज के समाज में कई लोगों का यह सोचना है कि वशीकरण मंत्र काम नहीं करते हैं यह सिर्फ एक प्रकार का भ्रम है, पर यह बिल्कुल गलत है. मंत्र चाहे किसी भी प्रकार का हो हर मंत्र की अलग सिद्धि और अलग शक्ति होती है. दरअसल किसी भी मंत्र को उपयोग करने से पहले अपने इष्ट देव पर भरोसा होना चाहिए और इष्ट देव का आशीर्वाद प्राप्त कर के ही कार्य को आगे बढ़ाना चाहिए.

pipal ke patte se vashikaran

क्योंकि मंत्र की उर्जा तो आपका बिगड़ा काम बनाने के लिए रास्ता बना सकती है पर आपके इष्ट देवी ही है जो आशीर्वाद देकर उस कार्य को सफल कर सकते हैं. कई लोग वशीकरण मंत्र का प्रयोग करने से पहले अपने इष्ट देव और गुरु को याद नहीं करते हैं और उनसे आशीर्वाद लिए बिना काम शुरू कर देते हैं इसलिए उनका कार्य सफल नहीं हो पाता।

कौन कौन कर सकता है इस वशीकरण प्रयोग का उपयोग।

इस पीपल के पत्ते से वशीकरण (pipal ke patte se vashikaran) प्रयोग का उपयोग वह लोग कर सकते हैं जिनका कोई अपना या उनका प्यार उनको छोड़कर कहीं दूर चला गया है और वह ना तो उनसे अब मिल पाते हैं ना ही उनको देख सकते हैं. क्योंकि शायद आप जानते होंगे कुछ वशीकरण ऐसे होते हैं जिनमें आपको सामने वाले को कुछ खिला कर उसका वशीकरण करना पड़ता है. पर सामने वाला अगर आप से कहीं दूर चला गया हो या किसी दूसरे शहर में हो तब इस वशीकरण क्रिया का उपयोग करके आप उसे अपने वश में कर के उसे वापस ला सकते हैं।

पीपल के पत्ते से वशीकरण

यहां पर बताए गए वशीकरण उपाय को अगर आप मन और श्रद्धा से करते हैं तो यकीन मानिए आपके द्वारा किया गया वशीकरण 100% सफल होगा और सामने वाला आपकी तरह दौड़ा चला आएगा।

pipal ke patte se vashikaran की पहली विधि।

इस pipal ke patte se vashikaran क्रिया को आप एक प्रकार से टोटका भी कह सकते हैं, पर यह अत्यंत शक्तिशाली और प्रबल टोटका है और अगर पूरी श्रद्धा से किया जाए तो इसके परिणाम बहुत जल्द मिलते हैं।

सबसे पहले शुक्रवार के दिन सुबह स्नान आदि करके शुद्ध हो जाए उसके बाद पास के किसी पीपल के पेड़ के पास जाकर वहां नीचे पड़े सूखे पत्तों में से दो सूखे पत्ते उठा ले। पत्तों को घर वापस लाने के बाद शाम को 6:00 बजे के बाद उन दोनों पत्तों की एक तरफ अच्छी तरह से घी लगा दें. अब इन दोनों पत्तों को अपने घर के ही भीतर किसी ऐसी जगह पर रख दें जहां पर किसी की नजर ना पड़े. अब 2 दिन बाद यानी सोमवार के दिन उन दोनों पत्तों को ले और एक पत्ते के ऊपर काजल से उस व्यक्ति का नाम लिखें जिससे आप अपने वश में करना चाहते हैं और दूसरे पत्ते में अपना नाम लिखें.

अब इन दोनों पत्तों को अपने सामने रखकर नीचे दिए गए वशीकरण मंत्र का 108 बार जप करें मंत्र जप करते समय याद रखिएगा कि आंखें आपकी बंद होनी चाहिए और ना ही आपको कोई टोके या देखे।

पीपल के पत्ते से वशीकरण मंत्र

“ॐ कलीम कृष्णाय नमः”

मंत्र पढ़ने के बाद उन दोनों पत्तों को उठाकर अच्छे से मोड ले और जला दें. जलाने के बाद जो राख बचेगी उसे आप अपने घर के आंगन में कहीं भी गाड़ दें, ध्यान रहे राख को आपके घर के आंगन के अंदर ही गाड़ना है तभी इस टोटके का प्रभाव प्रबल रहता है।

ऊपर बताई विधि अगर आपने अच्छे से की तो 11 दिन के भीतर सामने वाला या तो आप से संपर्क करेगा या कुछ ना कोई संदेश भेजेगा. अगर यह वशीकरण करने के बाद आपका कार्य सफल हो जाता है और सामने वाला आपके पास वापस आ जाता है तब आपने जहां पर उस राख को गाड़ी थी उसके ऊपर थोड़ा सा गंगाजल छिड़क दें।

पीपल के पत्ते से वशीकरण की दूसरी विधि

यह टोटका मध्य भारत में बहुत मशहूर है और वहां पर बहुत ज्यादा उपयोग किया जाता है. इस वशीकरण क्रिया को करने के लिए कोई दिन निर्धारित नहीं है, आप किसी भी दिन इस वशीकरण के लिए वो कर सकते हैं.

पीपल के पत्ते से वशीकरण

इसे करने के लिए सबसे पहले किसी पीपल के पेड़ के पास जाएं और दोनों हाथ जोड़कर उनसे आज्ञा मांगते हुए एक ताजा पीपल का पत्ता तोड़ ले. उसके बाद बिना पीछे मुड़े सीधा अपने घर आ जाए। घर आने के बाद उस पीपल के पत्ते के ऊपर सिंदूर से एक घोल बनाकर एक तरफ अपना नाम लिखें और पत्ते के दूसरी तरफ उस व्यक्ति या महिला का नाम लिखें जिससे आप अपने वश में करना चाहते हैं. अब इस पत्ते को 9 दिनों तक अपने घर के किसी ऐसे जगह में छुपा दे जहां पर किसी की इस पत्ते पर नजर ना पड़े.

9 दिनों के बाद जब वह पत्ता अच्छे से सूख जाए तब उस पत्ते को ले जाकर किसी भी बहते हुए पानी में प्रवाह कर दें और अपने इष्ट देव से प्रार्थना करें कि आप जिसके लिए वशीकरण कर रहे हैं वह आपके पास वापस आ जाए.

इस कार्य को सफल होने में 11 से 21 दिन का समय लगता है. इसलिए संयम बनाए रखें और अगर आपने मन और पूरे विश्वास के साथ इस टोटके को किया है तो जरूर आपका कार्य सफल होगा।

पीपल के पत्ते से वशीकरण की तीसरी विधि

यह सबसे आसान और सरल तरीका है पीपल के पत्ते से वशीकरण करने का. आपको करना सिर्फ इतना है आप 2 पीपल के पत्ते ले ले और उन दोनों के ऊपर लाल चंदन और केसर के घोल से अपना और उस व्यक्ति या महिला का नाम पत्ते पर लिख दे. नाम लिखने के बाद इन दोनों पत्ते को काले धागे से अच्छी तरीके से बांध ले और किसी भी शमशान में जाकर इन पत्तों को शमशान के अंदर फेक कर बिना पीछे मुड़ घर वापस आ जाए।

अगर यह टोटका करने के 5 दिन के भीतर आपको परिणाम नहीं दिखता है तो आप दो बार और इस टोटके को दोबारा कीजिए. आपको प्रणाम जरूर मिलेगा पर ध्यान रखिएगा कि शमशान के अंदर पत्तों को फेंकते समय आपको शमशान के अंदर पैर नहीं रखना है श्मशान के बाहर खड़े होकर ही आपको पत्ते को फेंकना है।

पीपल के पत्ते से वशीकरण का चौथी विधि

यह टोटका भी काफी आसान है जिसकी मदद से आप दूर में है बैठे किसी व्यक्ति का वशीकरण कर सकते हैं. इसे करने के लिए आपको शनिवार के दिन किसी भी पास की पीपल के पत्ते में से एक हरा पत्ता तोड़ के लाना है और पत्ता तोड़ने से पहले हाथ जोड़कर पीपल के पेड़ से आज्ञा लेने के बाद ही पीपल का पत्ता तोड़े. अब उस पीपल के पत्ते को घर लाने के बाद उस पत्ते के ऊपर कपूर की राख से उस व्यक्ति या महिला का नाम लिखें जिससे आप अपने वश में करना चाहते हैं.

उसके बाद उसी दिन उस पत्ते को ले जाकर उस पीपल के पेड़ के पास एक छोटा सा गड्ढा खोदकर वहां गाड़ दें और 11 दिनों तक रोज उस गड्ढे के ऊपर थोड़े से चावल डालकर वापस आ जाए. 11 दिनों तक चावल डालने के बाद आपको इसका असर दिखना शुरू हो जाएगा और सामने वाला खुद आपसे संपर्क करेगा.

पीपल के पत्ते से वशीकरण की पांचवी विधि

अगर आप किसी से सच्चे मन से प्यार करते हैं पर सामने वाला आपकी बात को नहीं समझ पा रहा तो यह वशीकरण क्रिया आपके बड़े काम की है. इस वशीकरण को करने के लिए आप एक कमरे में सर्वप्रथम बैठ जाएं और अपने सामने एक पीपल का पत्ता रखें अब उस पत्ते के ऊपर सिंदूर की मदद से उस व्यक्ति या महिला का नाम लिखें जिससे आप अपने वश में करना चाहते हैं और उस पत्ते के सामने एक दीपक जला दें. दीपक जलाने के बाद नीचे दिए गए मंत्र का 108 बार जप करें.

पीपल के पत्ते से वशीकरण मंत्र
काली चिड़िया चिग चिग बोले |
कली बन कर जाए ||
अमुक को वश में कर से करीए |
ना करीए तो यति हनुमान की आन ||

मंत्र जप करते समय मन में उस व्यक्ति या महिला का स्मरण करें और जब आपके 108 बार मंत्र जप पूरे हो जाएंगे तब उस पत्ते को किसी बहते पानी में प्रवाह कर दें. कुछ ही दिनों में आप देखेंगे कि सामने वाला आपकी तरह आकर्षित हो रहा है और आपकी बात मानने लगा है. मंत्र के बीच में जहां अमुक शब्द लिखा है वहां पर उस व्यक्ति या महिला का नाम बोले जिसे आप अपने वश में करना चाहते हैं.

पीपल के पत्ते से वशीकरण करते समय कुछ खास बातों का ध्यान रखें

वशीकरण को करते समय खासकर pipal ke patte se vashikaran करते समय अपने मन को साफ रखें और किसी भी प्रकार का कोई बुरा विचार मन में ना रखें नाही किसी वासना में आकर इस वशीकरण क्रिया को करें, ऐसा करने से इस वशीकरण का असर नहीं होगा.

शायद आप विश्वास नहीं करेंगे पर पीपल के पत्तों से वशीकरण और टोटके काफी असरदार साबित होते हैं और उनकी मदद से आसानी से अपने प्यार या अपने प्रियजन का वशीकरण किया जा सकता है.

जिस दिन आप इस क्रिया को कर रहे हो उस दिन भूलकर भी मांस मदिरा का सेवन ना करें.

हर क्रिया को करने से पहले अपने इष्ट देव और गुरु का ध्यान करके उनसे आशीर्वाद लेकर ही क्रिया को करे.

पीपल के पत्ते तोड़ने से पहले दोनों हाथ जोड़कर पीपल के पेड़ से आज्ञा जरूर मांगे.

हमारे द्वारा ऊपर बताएं गई हर विधि 100% काम करती है इसलिए अगर आप भी ऐसी परिस्थिति में है जहां पर आपका कोई अपना आपको छोड़ कर चला गया है

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s