तुरंत वशीकरण करने के तरीके

तुरंत वशीकरण करने के तरीके


आज भी समाज में कई ऐसे लोग हैं जो वशीकरण की क्रिया या वशीकरण मंत्र को अंधविश्वास की तरह समझते हैं पर यह बिल्कुल गलत है हम अपने पूरे अनुभव के साथ कह सकते हैं कि अगर सही भी विधि विधान और सच्चे मन से वशीकरण क्रिया को किया जाए तो 100% सफल परिणाम मिलता है.

लौंग से तुरंत वशीकरण क्रिया

इस वशीकरण क्रिया को आप सिर्फ महीने में एक ही बार कर सकते हैं यानी कि हर 30 दिन में एक बार इससे ज्यादा बार इस वशीकरण क्रिया को करने का सुझाव नहीं दिया गया है. इस वशीकरण क्रिया को करने के लिए आपको रविवार की सुबह 3 साबुत लौंग लेने हैं. अब इन तीनों लौंग को अपनी जीभ में रखें और मुंह बंद करके नीचे दिए गए मंत्र का धीरे – धीरे जाप करते रहे मंत्र जाप करने की कोई सीमा नहीं है आप जितना अधिक जाप कर सकते हैं वशीकरण उतना तीव्र होगा.

॥ ॐ ऐं ह्रीं क्रीं (अमुक) अति शीध्ग्रा वषयभूतेषु ॥

मुंह में लौंग रखते समय एक बात का ध्यान रखें कि लौंग को आप को दातो से तोड़ना नहीं है. जब कम से कम 20 से 25 मिनट तक आपके मंत्र जाप हो जाए तब इन तीनों लोंगो को अपने जीभ से निकालकर एक आम के पत्ते पर लपेट कर अपने पास सुरक्षित रखें. अब अगले दिन जिस भी स्त्री या पुरुष का वशीकरण करने के लिए आपने इस क्रिया को शुरू किया था उस यह लौंग खाने के लिए दे दे. अगर अपने मन से इस क्रिया को किया तो कुछ ही दिन में इसका परिणाम दिखना शुरू हो जाता है.

नींबू से तुरंत वशीकरण मंत्र

इस वशीकरण क्रिया को आप महीने के किसी भी दिन कर सकते हैं पर केवल शाम 6:00 बजे के बाद यानी सूर्य अस्त होने के बाद इस क्रिया को करें. इसे करने के लिए सबसे पहले आपको एक बड़ा पीला नींबू लेना है जिसमे कोई दाग ना हो और उसे लेने के बाद उसके ऊपर उस स्त्री या पुरुष का नाम लिखें लाल स्याही से जिसका वशीकरण करना है उसके बाद नीचे दिया गया मंत्र लिखें.

॥ ॐ हूं हूं हम्म वश्य्मे स्वाहा ॥

उस के बाद नींबू को एक काले रंग के कपड़े में बांधकर एक पोटली बनाकर 3 दिन तक अपने साथ लेकर सोए, चौथे दिन शाम 6:00 बजे के बाद इस नींबू को ले जाकर किसी भी मंदिर के चौखट या सीढ़ी पर रखकर वापस बिना पलटे घर वापस आ जाए. घर वापस आने के बाद 3 बार गायत्री मंत्र का जाप भी करे. यह एक तीव्र वशीकरण क्रिया है स्त्री या पुरुष का वशीकरण करने के लिए.

Turant vashikaran mantra in hindi

सरल मंत्र से तुरंत वशीकरण – यह वशीकरण क्रिया अत्यंत ही सरल है और इसका असर भी बहुत जल्दी दिखाई पड़ता है. इस क्रिया को करने के लिए आपको लगातार 11 दिनों तक रात को सोते समय मन ही मन नीचे दिए गए मंत्र का जाप करते रहना है मंत्र के बीच में जहां “अमुक” शब्द लिखा है वहां पर उस स्त्री या पुरुष या इच्छित व्यक्ति का नाम ले जिसका वशीकरण करना चाहते हैं.

॥ ॐ कामपिशाची (अमुक) सः मंम वश्यं करू करू स्वाहा ॥

ध्यान रहे मंत्रों का जाप करते समय आपकी आंखें बंद होनी चाहिए और ध्यान केवल उसी पर होना चाहिए जिसका वशीकरण करना चाहते हैं. आप जितना ज्यादा मंत्र जाप कर सकते हैं उतना उचित होगा 11 दिनों के पश्चात अब खुद ही देखेंगे कि जिसके लिए आपने यह मंत्रों का जाप किया था वह आपके प्रति अति आकर्षित होते जा रहे हैं.

फोटो से तुरंत वशीकरण मंत्र

इसे करने के लिए सबसे पहले आपको उस व्यक्ति या महिला या जिसका वशीकरण करना चाहते हैं उसकी फोटो की आवश्यकता पड़ेगी एक बात का ध्यान रखें फोटो ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए. फोटो लेने के बाद किसी भी शुभ दिन रात 12:00 बजे के बाद किसी एकांत स्थान पर पूर्व की ओर मुख कर कर बैठ जाएं और उसके बाद फोटो के पीछे पहले अपना नाम लिखें और उसके बाद उस व्यक्ति या महिला का और उसके बाद नीचे दिए गया मंत्र लिखें.

॥ ॐ ध्रुवा वश्य ॥

मंत्र लिखने के बाद फोटो को धूपबत्ती दिखाकर थोड़ा सा शुद्ध करें और फोटो को अपने सामने रख कर मंत्र को 512 बार जाप करें मंत्र जाप करने के बाद फोटो को कुछ कपूर की मदद से जला दें और उसकी राख को हवा में उछाल दें. 3 से 4 दिन के भीतर सामने वाला खुद आपके पास दौड़ा चला आएगा.

इत्र के द्वारा तुरंत वशीकरण

वशीकरण के क्रिया में किसी भी प्रकार की सुगंध का इस्तेमाल करना अति उत्तम माना गया है. इसलिए इत्र के द्वारा वशीकरण अति तीव्र होता है. इस वशीकरण को करने के लिए आप केवल गुलाब या चंदन के इत्र का ही इस्तेमाल कर सकते हैं. इस क्रिया को करने के लिए सबसे पहले इत्र की बोतल के अंदर एक लौंग डाल दें और उसके बाद लगातार 21 दिनों तक नीचे दिए गए मंत्र का रोज 51 बार जाप करके इत्र की बोतल के ऊपर 3 बार फूंक मारे.

॥ ॐ ऐं हीं क्लीं महायक्षाया (अमुकं) वश्यं ॥

जब आप के मंत्र जाप के 21 दिन पूरे हो जाएंगे तभी इस इत्र को लगाकर उस स्त्री या पुरुष के सामने जाए जिसको आप अपने वश में करना चाहते हैं. एक बात का ध्यान रखें कि जब भी आप इस इत्र को लगाकर उस स्त्री या पुरुष के सामने जाएं तो कम से कम कुछ समय उनके आसपास रहे ताकि उस इत्र की महक उनमें अच्छे से बस जाए. ऐसा लगातार 4 से 5 दिनों तक कीजिए और उसके बाद फिर इस वशीकरण क्रिया का असर देखिए.

तुलसी के पत्ते से तुरंत वशीकरण

यह वशीकरण उन प्रेमी जोड़ों के लिए काफी फायदेमंद है जिनका रिश्ता टूट गया है और उनका प्रेमी या प्रेमिका उनको छोड़कर कहीं दूर चले गए है या किसी और के साथ रिश्ता बना लिए है. इसे करने के लिए मंगलवार के दिन बाजार से भोजपत्र का टुकड़ा ले आए और उस भोजपत्र के ऊपर लाल सिंदूर से पहले एक ॐ लिखें और उसके नीचे अपने प्रेमी या प्रेमिका का नाम लिखें (ध्यान रहे की आपको नाम पूरा लिखना है) अब उस भोजपत्र के ऊपर 11 तुलसी के पत्ते रखें और उसके ऊपर थोड़ा सा गंगाजल छिडके.

अब उस भोजपत्र को अपने सामने रखकर “ॐ कृष्णाय नमः” का 108 बार जाप करें. जाप करने के बाद इस भोजपत्र को किसी छोटे से डिब्बे में रखकर उसी रात किसी नीम के पेड़ के नीचे गाड़ दें. यह एक ऐसी वशीकरण क्रिया है जिसके करने से आपका प्रेमी या प्रेमिका कितने भी दूर हो आपके पास खींचे चले आएंगे

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s