Mohabbat paida Karne ka wazifa

Mohabbat paida Karne ka wazifa


Aaslam walekum dosto, shuru karte hain Allah (SWT) ka naam le kar jo bada raham karne wala hai. Aj hum Kisi Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa ke bare mein batane wale hain.

Agar aap kisi ke mohabbat karte hain.par vo aapse mahobbat nahi karta hain. To aaj kisi ke dil mohabbat paida karne ka wazifa karne se vo aapse mohabbat karne lag jaega.vo aapka dost ho ya aapka dusman kyu na ho vo bhi aapse mohabbat karne lag jaega.

Is wazifa ko karne se aapke parivaar me jo bhi aapko nafrat karthe hain vo sab bhi aapse mohabbat karne lag jaege.vo bale hi aapki saas ho ya aapka shoher kyu na ho vo bhi aapko mohabbat karne lag jaege.

Aajkal har ladka or ladki chahte hain ki unka partner unko bhot mohabbat kare par kuch ladke ya ladkiya sirf time pass karte hain.agar aap chahte hain.ki vo aapko Kisi Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa karni chahiye.

Agar kisi wajah se aapka mehboob aapko chod kar chala gaya hain. to Apni Khoyi Mohabbat Pane Ki Dua.

agar aap kisi se sache dil se mohabbat karthe hain.aapko pata hain ki vo aapse mohabbat nahi kartha hain.tho us inshaan ke dil mohabbat paida karne ke liye aap ye wazifa kar sakthe hain.jisski wajah se aap us inshaan ke dil me mohabbat paida kar sakthe hain.or vo inshaan aapse beintha mohabbat karne lag jaega.

Kuch miya or biwi me nikaah ke baad bhi utni mohabbat nhi hoti hain.to agar aap chahte hain.ki miya ya biwi aapse beintiya mahabbat kare tho uske liye aap mohabbat hasil karne ki dua kar sakte hain.

  • Kisi Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa
  • Jab kabhi bhi aap ye wazifa kare to wuzu bana lijiye .
  • To is wazifa ko asmaan ki or dhekte hua padna hain
  • Quran-e-Pak, Surah #12, Ayat #30 Ka Ek Hissa
  • Isko 101 baar padhna Qad shaghafaha hubban
  • Uske baad 7 baar Durood sharif padhein.
  • Kisi Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne KA Wazifa

Is wazifa ko sirf 11 din karne par aap khud dhekege ke jiske liye aapne ye wazifa kiya hain.vo aapse beintiya mohabbat karne lag jaega.

Mohabbat Paida Karne Ki Dua

Jab aap kisi mohabbat kart hain.par vo aaoko bina kuch btaye bina chod kar chala jae to usko aapne aap vapas lane ke liye or apni mohabbat hasil karne ki dua karne se vo jald hi aapke pass vapas aa jaega.

Agar aapki mohabbat ko pana chahte hain to Apne Pyar Ko Pane Ki Dua.

Agar aap kisi ko mohabbat karte hain par vo aapko mohabbat nahi karta to vo chaye miya or biwi ho ya koi ladka ya ladki ho to vo bhi is mohabbat hasil karne ki dua kar sakte hain.

Mohabbat Hasil Karne Ki Dua

  • Jab kabhi bhi aap ye wazifa kare to wuzu bana lijiye .
  • To is wazifa ko asmaan ki or dhekte hua padna hain
  • “YA WADOODO”
  • Isko 141 baar padhna
  • Uske baad 7 baar Durood sharif padhein.

Mohabbat Hasil Karne Ki Dua

Is wazifa ko sirf 7 din karne par aap khud dhekege ke jiske liye aapne ye wazifa kiya hain.vo aapse beintiya mohabbat karne lag jaega.

Ye dua aap aapne parivaar me koi aapse mohabbat nahi karta ho to bhi kar sakte hain.

agar aapke shoher aapse mohabbat nahi karte hain.ya jo nikaah ke baad jo mohabbat hainvo din be din kam hoti ja rahi hain ya unka kisi or ki wajah se aapse mohabbat nahi karthe hain. tho Shohar Ko Apni Mohabbat Main Bechain Karne Ka Wazifa karna chahiye.

agar aapki mohabbat aapse door ho gayi hain tho us mohabbat ko pane ke liye aapko Mohabbat Hasil Karne Ki Dua karni chahiye.issko karne se aap jisse mohabbat karthe hain.aap usko paa sakthe hain.sath hi vo bhi aapse sache dil se mohabbat karne lag jaega.

agar aapke shoher bhi aapse mohabbat nahi karthe hain.or vo aapse door rahthe hain.aapchahti hain ki vo aapse sache dil se mohabbat kare tho aapko Mohabbat Hasil Karne Ki Dua karni chahiye.isko karne se sirf 7 din ke andar andar aap dhekege ki vo bhi aapse mohabbat karne lag gaye hain.

Kisi Ko Apne Pyar Me Pagal Karne Ka Wazifa ki madad se ap apne mahboob ko vapas lane ya mohabbat paida karne ke liye bhi kar sakte hain.

Ye wazifa aap aapne nikaah ke baad miya ya biwi ke liye bhi kar sakte hain takivo aapse mohabbat karne lag jaege.

Ye dua aap nikaah ke biwi aapni saas ke liye bhi kar sakti hain jisse uski saas bhi usko mohabbat karne lag jaegi.jisse parivaar me koi massal nahi hoga saas or biwi ki aachi bnanegi.uske liye Kisi Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa hoga.

Ye dua karne se aapki zindgi me jo bhi aapko mohabbat nahi kartha vo koi bhi ho chaiye vo siraf kuch din me aapse mohabbat karne lag jaega.

Ager apko lagta hain apki dua ka nateja apko nahi mil raha hai to ap Har Dua Qabool hone ki dua padh sakte hain.

किसी के दिल में मोहब्बत पैदा करने के लिए वजीफा

किसी के दिल में मोहब्बत पैदा करने के लिए वजीफा – Kisi Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ke Liye Wazifa, Dua, Amal, यदि आप किसी भी लड़के या लड़की या कोई भी जिसके दिल मे आप मोहब्बत जगाना चाहते है तो हम आज आपको महबूब के दिल में मोहब्बत पैदा करने का वजीफा बता रहे है. इसके अलावा आज हम आपको दुश्मन के दिल में मोहब्बत पैदा करने का वजीफा और सास के दिल में मोहब्बत पैदा करने का वजीफा भी बतायेगे

Kisi Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ke Liye Wazifa

परिवार-समाज में सभी रिश्ते-नाते मोहब्बत की बुनियाद पर ही टिके होते हैं। कोई किससे कितना प्यार करता है, और किसके दिल में कैसी बेशुमार मोहब्बत है, इसका अंदाजा लगाना आसान नहीं होता।

जबकि किसी व्यक्ति के दिल में बेमिसाल मोहब्बत अवश्य पैदा की जा सकती है। हर महबूब अपनी महबूबा के दिल में मोहब्बत पैदा करने की कोशिश करत है, तो किसी महबूबा की एकमात्र ख्वाहिश होती है कि उसका मेहबूब उसे बेइंतहा प्यार करे।

किसी के दिल में मोहब्बत पैदा करने के लिए वजीफा

मिंया-बीवी हों, सास और बहू हों या फिर परिवार के दूसरे सदस्य, हर किसी के दिल में बना एक-दूसरे के प्रति प्रेम ही परिवार और समाज में परंपरागत संस्कार व मान-मर्यादा को बढ़ाने में सहायक बनता है।

यह सर्वमान्य है कि मोहब्बत में खुदा का वास होता है। इंसान उसी खुदा की खिदमत कर हर किसी के दिल में भी मोहब्बत की अलख जगा सकता है। इस्लाम में किसी की मोहब्बत हासिल करने से लेकर दूसरे के दिल मंे मोहब्बत पैदा करने के लिए सच्चे मन से अल्लाह के इबादत की सलाह दी गई है।

कुरान-ए-पाक में कई आयतें हैं, जिन्हें कायदे से पढ़ने पर उसका असर एक बेहतरीन वजीफे की तरह होता है। इन दुआओं से सगे-संबंधी और हितैषी क्या, दुश्मन तक के दिल में मोहब्बत पैदा की जा सकती है। वह वजीफा इस प्रकार हैः-

नादे अलिय्यम-मजहरल अजाइबी अवनल्ल्का फिन्नवाइबी कुल्लू हम्मिंव व ग़म्मिन स यनजली बिरहमतिका या अल्लाहू बिनबूव्वतिका या मुहम्मदु सूलल्लाही वबी विला यातिका या अलिय्यु, या अलिय्यु, या अलिय्यु

महबूब के दिल में मोहब्बत पैदा करने का वजीफा

महबूब के दिल में मोहब्बत पैदा करने का वजीफा – Mahaboob Ke Dil Mai Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa, Dua, Amal, यदि कोई लड़की किसी लड़के को बेहद पसंद करती है, और उससे बेपनाह मोहब्बत कर बैठती है तब उम्मीद करती है कि उसका महबूब भी उसे बहुत प्यार करे।

जबकि कोई जरूरी नहीं कि वह लड़का भी उससे मोहब्बत करे। लड़की द्वारा सुंदरता और आचार-व्यवहार से प्रेमी को रिझाने की कोशिशें जब बेकार हो जाती है तब उसे इस्लामी वजीफे का सहारा लेना चाहिए, ताकि अपने महबूब के दिल में मोहब्बत पैदा कर सके।

डेटिंग पर जाने, सोशल साइटों पर आकर्षक शेरो-शायरी के साथ चैटिंग और फोन पर बातें करने, या फिर तारीफों का पुल बांधने जैसे कामों में वजीफे की दुआएं काफी सहायक बनती हैं। वजीफा ठीक से तभी काम करता है जब उसे आप खुद के दम पर इस्लामी तरीके के साथ पढ़ते हैं।

Mahaboob Ke Dil Mai Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa

  • महबूब के दिल में मोहब्बत पैदा करने वाले को चाहिए कि वह ऊपर दिए गया वजीफा सुबह साढ़े 11 बजे तक चाश्त के वक्त में पढ़े।
  • शुरूआत किसी भी जुमे के रोज यानी शुक्रवार के दिन से की जा सकती है। पाक-साफ होकर पहले वुजू बना लें। फिर फज्र से चाश्त के दरम्यान 47 मरतबा वजीफा ‘नाद-ए-अली को पढ़ें।
  • उसके बाद अपने महबूब से फोन पर बातें करें, या मिलने के वास्ते मैसेजिंग दें। आप पाएंगे कि माशूक मोहब्बत का दीवाना बन हैरान-परेशान होकर मिलने के लिए बेकरार हो जाएगा। महबूब से बात नहीं कर पाने की स्थिति में उसकी तस्वीर पर दम कर सकते हैं।
  • इस वजीफे को हैज या माहवारी के दिनों को छोड़कर हर जुमे के रोज पढ़ा जा सकता है। इसकी कोई मियाद नहीं होती है।

दुश्मन के दिल में मोहब्बत पैदा करने की दुआ

दुश्मन के दिल में मोहब्बत पैदा करने की दुआ – Dushman Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ki Dua, Wazifa, Amal, इस्लामी दुआओं में काफी दम होता है। इसका असर लंबे समय तक बना रहता है। उसके लिए कुरान-ए-पाक में बताए गए वजीफे को अगर सही तरह से नियमित तौर पर पढ़ा जाए, तो दुश्मन के दिल में भी मोहब्बत पैदा की जा सकती है। गलत तरीके से नुकसान भी हो सकता है।

पुरानी से पुरानी दुश्मनी हमेशा के लिए खत्म की जा सकती है। जानकार मौलवी से इसके तरीके की जानकारी लेकर दुश्मन के नाम और तस्वीर के साथ अल्लाह से दुआ करनी चाहिए कि उनकी दुश्मनी दोस्ती में बदल जाए।

Dushman Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ki Dua

  • इसकी शुरूआत किसी भी दिन प्रातः सात से दस बजे के बीच कर सकते हैं। घर के किसी एकांत कोने में सुकून की जगह पर चादर बिछाएं और वुजू कर बैठ जाएं। बिस्तर चाहे जमीन पर हो या फिर चैकी पर, उसका पाक-साफ होना जरूरी है।
  • दुआ के लिए वजीफा पढ़ने से पहले 11 बार दुरूद शरीफ पढ़ें।
  • उसके बाद कुरान-ए-पाक में दिए गए सुराह युसुफ की आयत 30 के एक छोटा से हिस्से को बिस्मिल्लाह शरीफ पढ़कर 101 मरतबा पढ़ें।
  • आखिर में दुरूद शरीफ को एक बार फिर से 11 बार पढ़ें।
  • इसे पढ़ते समय उस व्यक्ति की तस्वीर जेहन में बिठा लें और अंत में अल्लाह से दुआ करें कि वे उसके दिल में मोहब्बत पैदा करे, ताकि दश्मनी हमेशा के लिए खत्म हो जाए। उसकी तस्वीर पर दम भी कर सकते हैं।
  • यह वजीफा कायदे से 11 दिनों तक लगातार अवश्य पढ़ें। नतीजे नहीं आने पर 21 दिनो तक पढ़ सकते। इसे कोई महिला भी पढ़ सकती है, लेकिन उसे माहवारी के दिनों में परहेज के साथ अल्लाह से दुआ करनी चाहिए।

सास के दिल में मोहब्बत पैदा करने का वजीफा

सास के दिल में मोहब्बत पैदा करने का वजीफा – Saas Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa, Dua, Amal, सास और बहू के बीच अनबन का होना बहुत ही साधारण बात है। हर बहू चाहती है कि सास के दिल में उसके प्रति मोहब्बत बनी रहे। ऐसी बहू सास का दिल जीतने की पूरी कोशिश करती है,

लेकिन कई बार नाकामी भी मिलती है। इस स्थिति में इस्लामी वजीफा पढ़कर सास के दिल में मोहब्बत पैदा करने की कोशिश करने से बहू निश्चित तौर पर सफल हो सकती है।

वजीफे को बहुत ही सावधानी बरतते हुए और नियम के साथ पढ़ना चाहिए। वह वजीफा है- वा तम्मत कलिमातु रब्बीका सिद्दकनवा वा अल्ल, ला मुबद्दीला ली कलिमातिह, वा हुवास समीउल अलीम।

Saas Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa

  • माहवारी के दिनों को छोड़कर किसी भी दिन इसकी शुरूआत की जा सकती है। बगैर नागा किए हुए कम से कम 11 दिन या फिर 21 दिनों तक रात को सोने से ठीक पहले वजीफ पढ़ना चाहिए।
  • सबसे पहले ताजा वुजू बनाकर पहले 11 बार दुरूद शरीफ पढ़ें। उसके बाद ऊपर वर्णित वजीफे को 101 बार पढ़ें।
  • अंत में एक बार फिर से 11 बार दुरूद शरीफ को पढ़ें। वजीफा पढ़ने के दौरान अपनी सास का ख्याल जेहन में बनाए रखें। साथ में उनके पसंद की किसी चीज पर दम करें और आगले रोज सास को भेंट कर दें। कुछ नहीं हो तो एक पुड़िया चीनी पर ही दम कर उन्हें शरबत बनाकर पिला दें।

Apne Molvi Ji Se rabta karke aapne upar se Kisi Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa Karwa sakte hain.sath me agr aapko is wazifa ya dua me koi dikkat aarhi ho tho bhi aap humse baat kar sakte hain. Hum jaldi hi aapke mssla hal kar dege.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s