किसी को वापस बुलाने का वजीफा

किसी को वापस बुलाने का वजीफा


दोस्तों यदि कोई आपसे रुठ कर या बिछुड़ कर चला गया है तो आप चिंता न करे, आज हम आपके लिए लेकर आये है घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा और किसी को दिल से बुलाने का वजीफा। इस वज़ीफ़े को महबूब को वापस बुलाने का वजीफा भी कहा जाता है.

इस दुनिया में किस व्यक्ति के दिमाग में कब कौन-सा ख्याल आ जाए ये केवल वही व्यक्ति जानता है या अल्लाह जानता है। अक्सर ऐसा होता है कि हमारा अपना कोई करीबी व्यक्ति हमसे दूर चला जाता है। ऐसे व्यक्ति को वापस बुलाने के लिए आप किसी को वापस बुलाने का वजीफा पढ़ सकते है।

किसी को वापस बुलाने का वजीफा

इस वजीफे की मदद से वह व्यक्ति दुनिया के किसी भी कोने में क्यों ना हो, वापस जरूर लौट आएगा। यदि आपका भी कोई दोस्त, महबूब, बेटा, बेटी, पति, पत्नी, प्रेमी या अन्य कोई भी व्यक्ति आपसे दूर चला गया है और आप उसे अपने पास वापस बुलाना चाहते है तो एक बार किसी को वापस बुलाने का वजीफा अवश्य अपनाएं।

हमारा दावा है कि हमारे द्वारा बताए गए सभी वजीफे असरदार है और बहुत जल्द आपका मुराद पूरी कर देंगे।

किसी को वापस बुलाने का वजीफा जो हम आपको बता रहे है, वह बहुत ही सरल है और आप घर पर खुद इस वजीफे को कर सकते है। इसके लिए सबसे पहले एक सफेद कागज लें जो तीन इंच चौड़ा और तीन इंच लंबा होना चाहिए। इस कागज पर आपको उस व्यक्ति का नाम लिखना है, जिसे आप वापस बुलाना चाहते है। इसके साथ ही उसकी माँ का नाम भी कागज पर लिख दें। अब कागज के चारों कोनों में किसी को वापस बुलाने का वजीफा लिखें –
बिस्मिल्लाह हिर्र रहमान निर्रहीम

किसी को वापस बुलाने का वजीफा के लिए अब आपको उस कागज में एक धागा बांधकर घर के बाहर लटका देना है। इस वजीफे से वह व्यक्ति जहाँ कहीं भी होगा आपकी ज़िन्दगी में वापस आ जाएगा।

महबूब को वापस बुलाने का वजीफा

आमतौर पर ऐसा देखा जाता है कि प्यार-मोहब्बत के रिश्तों में छोटी-छोटी बातों को लेकर तकरार आ जाती है। यदि आप किसी से सच्ची मोहब्बत करते है तो ऐसी छोटी बातों को नज़रअंदाज़ करने की आदत डाल लीजिए।

कई बार हमारी कोई छोटी गलती या किसी गलतफहमी के कारण हमारा महबूब हमसे रूठ जाता है। जो लोग अपने महबूब से सच्चा प्यार करते है, वे उसके बगैर अपनी ज़िन्दगी की कल्पना भी नहीं कर सकते है। ऐसे में अपने महबूब को वापस बुलाने के लिए महबूब को वापस बुलाने का वजीफा का इस्तेमाल किया जा सकता है।

Mahaboob Ko Wapas Bulane Ka Wazifa

यदि आपका भी प्रेमी (या प्रेमिका)आपसे दूर चला गया है तो आप ये महबूब को वापस बुलाने का वजीफा अपना सकते है। इस वजीफे के लिए सबसे पहले ताजा वुज़ू बना ले और अपने महबूब की तस्वीर अपने सामने रखकर बैठ जाएं। यह वजीफा आपको रात में 11 बजे के बाद अपनाना है। महबूब को वापस बुलाने का वजीफा में सबसे पहले 7 बार दुरूद ए पाक पढ़े।
इसके बाद 7 मरतबा सुरह यासीन पढ़े और आखिर में 7 बार दुरूद ए पाक फिर से पढ़े। महबूब को वापस बुलाने का वजीफा में अब आपको अल्लहा से अपने महबूब को वापस बुलाने की दुआ करनी है।

अब एक लाला धागे पर दम करके अपने सामने रखी तस्वीर पर बांध दें। महबूब को वापस बुलाने का वजीफा की मदद से मात्र सात दिन में आपका महबूब आपकी ज़िन्दगी में वापस आ जाएगा।

घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा

कई बार हमारे परिवार का कोई सदस्य किसी बात से नाराज़ होकर घर से भाग जाता है। अक्सर बच्चे अपने माता-पिता की डांट से परेशान होकर या फिर पढ़ाई में कम नंबर आने के कारण घर से भागने का फैसला कर लेते हैं।

वहीं कई बार कुछ बड़े-बुज़ूर्ग लोगों को अपने बहू-बेटों की बात का बुरा लग जाता है। उनकी कही बात वे दिल में बैठा लेते हैं और घर से भाग जाते हैं।

लेकिन सच्चाई तो ये है कि कोई भी करीबी व्यक्ति हमारी भलाई के लिए हमे डांटता है और अपना समझकर ही कुछ भी बोलता है।

ऐसे में घर से भागने का फैसला उचित नहीं है। इसके बावजूद यदि आपके घर का कोई सदस्य भाग गया है तो आप घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा अपना सकते हैं।

Ghar Se Bhage Hue Ko Wapas Bulane Ka Wazifa

घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा के लिए आप रविवार के दिन बाज़ार से एक नया ताला खरीद कर लें आए। अब रात को 12 बजे आपको कब्रिस्तान जाना है और वहाँ जाकर घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा करना है। सबसे पहले ताले पर उस भागे हुए व्यक्ति का पूरा नाम और जन्म की तारीख लिख दें।
घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा के लिए अब 11 बार दुरूद ए शरीफ पढ़े और चाबी की मदद से ताला बंद कर दें। अब उस ताले को हवा में ऊँचा उछाल दे और भागकर कब्रिस्तान से बाहर निकल जाएं।

ध्यान रखिए वह ताला आपको हवा की दिशा में घूमाकर उछालना है। घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा में जैसे वह ताला घूमकर नीचे गिरेगा, उसी तरह घर से भागा हुआ वह व्यक्ति भी घूमता हुआ सीधा घर लौट आएगा।

किसी को दिल से बुलाने का वजीफा

यदि हम कोई चीज या किसी व्यक्ति को दिल से चाहते है तो वह हमे जरूर नसीब हो जाती है, बशर्ते आपके अंदर खुदा के प्रति विश्वास होना जरूरी है।

जो व्यक्ति अल्लाह ताला की ताकत पर भरोसा रखता है उसे अपनी ज़िन्दगी में सभी मनचाही वस्तु प्राप्त होती है। कई बार हम किसी व्यक्ति को दिल से चाहते है, लेकिन वह हमारे करीब आने की बजाय लगातार दूर चली जाती है।

ऐसे में आप किसी को दिल से बुलाने का वजीफा की मदद से उस व्यक्ति को अपने करीब बुला सकते है। अगर आप किसी से निकाह करना चाहते है या फिर दोस्ती के लिए किसी को करीब बुलाना चाहते है तो किसी को दिल से बुलाने का वजीफा का इस्तेमाल कर सकते है।

Kisi Ko Dil Se Bulane Ka Wazifa

किसी को दिल से बुलाने का वजीफा के इस्तेमाल के लिए मौलवी साहब या ईमाम से इजाजत लेना जरूरी है। यह वजीफा कभी भी गलत मकसद से नहीं करना चाहिए।

यदि आपका कोई व्यक्ति आपसे रूठ गया है और आपके मनाने के बावजूद वह व्यक्ति वापस नहीं आ रहा है तो किसी को दिल से बुलाने का वजीफा की मदद ले सकते है।

इसके अलावा यदि किसी का अपहरण हो गया है या फिर कोई घर से भाग गया है तब भी आप किसी को दिल से बुलाने का वजीफा अपना सकते है। साथ ही इस प्रकार की किसी भी समस्या के समाधान के लिए आप हमसे भी संपर्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s