खोया प्यार पाने का वज़ीफ़ा

खोया प्यार पाने का वज़ीफ़ा


प्यार हमेशा गुदगुदाता है और यदि आप का प्यार दूर चला जाये तो दिल बेचैन हो जाता है, इसलिए आज आपको हम लाये है खोया हुआ प्यार वापस पाने की दुआ और खोई हुई मोहब्बत को हासिल करने का अमल. इसे खोए हुए प्यार को वापस पाने का तरीका भी कहा जाता है.

जीवन में कई बार ऐसे मुकाम आते हैं जहां ना चाहते हुए भी हम ऐसे व्यक्ति से दूर हो जाते हैं जिन्हें हम बहुत मोहब्बत करते हैं| कई बार परिस्थितियां हमारे वश में नहीं होती है| यदि आपके जीवन में भी कुछ ऐसा ही हुआ है तो आप इस्लामी अमल वजीफा का इस्तेमाल कर अपने खोए हुए प्यार को पुनः अपने जीवन में वापस ला सकते हैं|

खोया प्यार पाने का वज़ीफ़ा

यदि आप परेशानी में हैं, क्योंकि आपका प्रेमी आपको छोड़ चुका है और आप उस मुसीबत को हल करना चाहते हैं, और आप इस्लामी अमल द्वारा अपना प्यार वापस पाना चाहते हैं। फिर आप इस बारे में सही लेख को पढ़ रहे हैं, जहाँ आपको इस बारे में पूरी जानकारी मिलेगी।

खोया प्यार पाने का वज़ीफ़ा को आजमाने की विधि-क्या आप अपने मोहब्बत को वापस पाने के लिए विभिन्न अमलों को आजमाने के लिए तैयार हैं और ये तरीके या तो वैध हैं और साथ ही परिणाम देने वाला भी हैं?अपने खोए हुए मोहब्बत को फिर सेपाना बहुत मुश्किल होता है और इस कार्य में सबसे मुश्किलात यह है की सामने वाले के दिल में फिर से मोहब्बत कैसे जगाई जाए| इसलिए आपको नीचे दिए हुए वजीफे को नियमित रूप से सौ मर्तबा ईशा औरसहर के नमाज के बाद पढ़ना होगा|

“या रसाल रसूले अबाबाहिम तराइन अबाबिला मुश्किलात मुक्कमल मोहेसुद्दीन मरकता|”

ऊपर दिए हुए वजीफे को यदि आप नियमित हफ्ते भर पढ़ते हैं तो यह वजीफा अपना असर दिखाना शुरू कर देता है| यह आप के प्रेमी को फिर से आपकी और आकर्षित करना शुरू कर देगा जिससे आप अपने थोड़े से मेहनत से वापस से पा सकते हैं|

इस वजीफा को आजमाते हुए इस बात का ध्यान रखें कि आपके पुराने प्रेमी को इस बात का जरा सा भी इल्म ना हो कि आप किसी भी प्रकार का अमल का इस्तेमाल करके उन्हें वापस से अपने जीवन में लाना चाहते हैं| यदि वह इस बात को जान लेंगे तो यह वजीफा उतना असरदाई नहीं होगा, जितना इसे होना चाहिए|

खोया हुआ प्यार वापस पाने की दुआ

मोहब्बत जिंदगी का सबसे खूबसूरत शब्द है|अपने जीवन में हर कोई किसी न किसी से प्यार जरूर करता है|

हर किसी की जिंदगी में एक दिन ऐसा आता है जिस दिन उसको अपना मोहब्बत मिलता हैं, लेकिन कई बदकिस्मत लोग इसे गंवा भी बैठते हैं|

आज हम इन लोगो के लिए अपने मोहब्बत को वापस पाने की दुआ के बारे में चर्चा करेंगे|

Khoya Hua Pyar Wapas Pane Ki Dua

  • इस्लाम में लोग अल्लाह से सीधे संपर्क के लिए दुआ करते हैं| ऐसा कहा जाता है कि दुआ से अल्लाह ताला बहुत खुश होते हैं और हमारी सारी मुरादें पूरी करते हैं|
  • यदि आप अपने मोहब्बत के खो जाने से बहुत दुखी हैं और अपने प्रेमी को वापस अपनी जिंदगी में लाना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको अल्लाह ताला से दुआ करना होगा|
  • इसके लिए सर्वप्रथम ईशा की नमाज के बाद किसी साफ-सुथरी जगह पर बैठ जाये| अब अपने दोनों हाथ उठाकर आपको इस दुआ को 22 मर्तबा दोहराना होगा:-
  • “कोई भी अल्लाह के अलावा मुझे दुआ नहीं देता है,जो मैं मांगता हूँ, वो केवल तेरे बस में हैं या मुझसे एक ही तरह की बुराई को दूर रखता है तू, बशर्ते मैं यदि पापी नहीं हूँ , तो ओ मेरे खुदा मैं मांगता हूँ तुझसे फिर से उन्हें मांगता हूँ, या पारिवारिक संबंधों को जोड़ने के लिए तुझसे उम्मीद करता हूँ(जाबिर ने इसे पैगंबर के रूप में संबंधित कहा: तिर्मिधि)”।
  • यह दुआ बहुत ही शक्तिशाली है यदि इसे आप पूरे दिल से करते हैं तो अल्लाह ताला निश्चय ही आपकी सारी मुरादें पूरी करेंगे| बहुत जल्द आपका खोया हुआ प्यार खुद-ब-खुद आपके पास वापस लौट आएगा|

खोई हुई मोहब्बत को हासिल करने का अमल

यदि आपका सच्चा प्यार आपको छोड़ कर चला गया है लेकिन आप इस सदमा को बर्दाश्त नहीं कर पा रहा है,

तो आप इस्लाम में बताए हुए कुछ अमल का उपयोग कर अपने सच्चे मोहब्बत को वापस से अपने जीवन में ला सकते हैं|

अपना खोया हुआ प्यार पाने के लिए आप अमल का इस्त्माल जरूर करे, लेकिन यदि मेरी सलाह माने तो, इसे किसी जानकार या मौलवी के बताये हुए तरीकों के अनुरूप ही करें|

खोई हुई मोहब्बत को हासिल करने का अमल- खोई हुई मोहब्बत को हासिल करने के लिए आपको यह अमल एक महीने तक रोजाना करना होगा, तभी यह अपना असर दिखाएगा|

Khoye Hue Mohabbat Ko Hasil Karne Ka Amal

  • सबसे पहले आपको अपने महबूब को जेहन में रखना होगा और उसके बाद अपने इत्मीनान से वुजू बना ले|
  • वुजू करने के बाद पहले दरूद -शरीफ को 7 बार पढ़ना है और फिर उसके बाद सूरह यासीन की आयात 40 को 7 बार पढ़ना है|
  • इन को पढ़ने के बाद ढेर सारी दुआएं और धिक्कार करे| और वापस से दारुदे-शरीफ को 3 मर्तबा पढे|
  • इस्लाम मे किसी भी कार्य के निष्पादन से पहले इस ग्रंथ को पढ़ने की गुजारिश की जाती हैं|
  • याद रहे आयात पढ़ते वक्त आपका दिल और दिमाग अपने महबूब की तरफ रहे और अल्लाह-ताला को भी अपने दिल से याद करते रहना हैं|
  • आयात को पढ़ने के बाद अल्लाह ताला से दुआ करे-
  • “ओ मेरे परवरदीगर तू सब की सुनता हैं, इस गरीब की भी सुन और उसकी झोली खुशियों से भर दे, आमीन|”
  • इस अमल को रोज अपनी आदत बना लीजिए| दुआ पढ़ने के बाद 21 मर्तबा अपने महबूब का नाम भी लें| इंशा अल्लाह चंद दिनों में इसके असर नजर आने लगेंगे|
  • आपका खोया हुआ प्यार वापस से पहले जैसा आपके साथ होगा| अल्लाह ताला अपने हर बंदे की रजा को पूरी करते हैं|

खोए हुए प्यार को वापस पाने का तरीका

यदि आपने अपने खोए हुए प्यार को पाने के लिए अपनी सारी कोशिशें करके देख ली है और आप इसमें कामयाब नहीं हो पा रहे है,

तो हम यहां आपको एक शत-प्रतिशत परिणाम देने वाले इस्लामी नुस्खा बतायेंगे जिससे आपका खोया हुआ प्यारदुबारा से पहले की तरह आपकी जिंदगी में शामिल हो जाएगा|

Khoye Hue Pyar Ko Wapas Pane Ka Tarika

  • इस अमल को आप किसी भी दिन शुरू कर सकते हैं| इसके लिए आपको अपने महबूब के इस्तेमाल की हुई कोई वस्तु की आवश्यकता होगी| आपके पास कोई ना कोई ऐसी चीज अवश्य पड़ी होगी जिसे आपके महबूब ने कभी इस्तेमाल किया होगा|
  • इस वस्तु को लेकर आप आधी रात को आंगन में सफेद चादर बिछाकर बैठ जाएं| अब अपने सामने इस वस्तु को रखें|
  • इसके पश्चात इस वजीफा से 22 मर्तबा दुहराये-
  • “या वसीमेकुरन वसुतुल्ले वाजिद वाकरे अलसीतलम गरीबपरवर नवजूद्दीन असलिलेकुलम वलाकत|”
  • इस वजीफा को पढ़ने के बाद, उस वस्तु को अपने महबूब का नाम दुहराते हुए आँगन मे जला दें|
  • इस वस्तु के जलने के साथ ही आपके महबूब के दिल में जो आपके लिए नफरत होगी वो भी समाप्त हो जाएगी| और वह वापस से आपसे उसी कदर बेपनाह मोहब्बत करने लगेंगे|
  • मोहब्बत एक बहुत ही नाजुक अहसास होता है| इसलिए किसी भी अमल और वजीफा का इस्तेमाल करते हुए इस बात का ध्यान रखेंकि आपके प्रेमी को किसी बात का बुरा ना लगे और वह और अधिक नाराज ना हो जाए|

इस लेख में वर्णित सभी अमल और वजीफ़ा शत-प्रतिशत परिणाम देने वाले हैं जिन्हें आजमाकर आप अपनी जिंदगी में दोबारा से रोशनी कर सकते हैं|

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s